a गृह  
  a हम  
  a लक्ष्य और उद्येश्य  
  a निदेशक पर्षद  
  a संगठनात्मक संरचना  
  a विर्तीय श्रोत  
  a कार्यक्रम/योजनाएँ  
  एस.आर.एम.एस. योजना  
  a प्रशिक्षण कार्यक्रम  
  प्रगति एवं उपलब्धियां  
  a जिला कार्यालय  
  a महत्वपूर्ण सूचनाएँ  
  a निविदा  
  a सूचना का अधिकार अधिनियम  
  a हमसे संपर्क करें  
एस.आर.एम.एस. योजना

 

 राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त एवं विकास निगम, नई दिल्ली के माध्यम से  ऋण योजना :-

केन्द्र सरकार द्वारा मैला ढ़ोने की प्रथा को खत्म करने के लिये स्वच्छकार एवं उनके आश्रितों के पुर्नवास के लिये एस.आर.एम.एस. योजना शुरू की गई है, इस योजना के अन्तर्गत विभिन्न संस्थाओं के माध्यम से झारखण्ड राज्य अनुसूचित जनजाति सहकारिता विकास निगम (TCDC) मोरहाबादी द्वारा ऐसे स्वच्छकारों को पहचानित कर प्रशिक्षण प्रथम चरण में मुहैय्या कराया जा चुका है। राया जा चुका है।

(TCDC) द्वारा जिन प्रशिक्षण संस्थानों से प्रशिक्षण दिलवाया गया उनकी सूची निम्नवत् है :-

क्र.सं.

जिला का नाम

N.G.O. का नाम

दिये गये प्रशिक्षण/ट्रेड का नाम

जिलान्तर्गत प्रशिक्षितों की सं.

1

2

3

4

5

1

जामताडा

में. सिटिजन फाउन्डेशन, हजारीबाग

1. इलेक्ट्रीकल
2. इलेक्ट्रोनिक्स
3. सिलाई/कटाई

150

2

लातेहार

में. माँ दुर्गा विकास समिति, पलामु

1. सुअर पालन
2. सिलाई/कटाई
3. साईकिल मरम्मति
4. बाँस वस्तुकला
5. इलेक्ट्रोनिक्स
6. कम्प्यूटर

177

3

साहेबगंज

संत रविदास कल्याण समिति, राँची

1. बाँस वस्तु कला
2. स्क्रीन प्रिंटिंग
3. ऑटोमोबाइल रिपेयरिंग
4. इलेक्ट्रोनिक्स
5. सिलाई/कटाई

370

4

गढ़वा

ग्रामीण विकास समिति, डालटेनगंज

1. सुअर पालन
2. सिलाई/कटाई
3. बकरी पालन
4. बेंत बाँस प्रशिक्षण
5. कम्प्यूटर प्रशिक्षण
6. इलेक्ट्रोनिक्स

200

5

पलामु

ग्रामीण विकास समिति, डालटेनगंज

1. सुअर पालन
2. सिलाई/कटाई
3. बेंत बाँस
4. बकरी पालन
5. कम्प्युटर प्रशिक्षण
6. इलेक्ट्रोनिक्स
7. ऑटोमोबाईल रिपेयरिंग
8. मुर्गी पालन
9. हैण्ड पम्प मरम्मति

301

6

राँची

आर्यभट्ट कम्प्युटर, राँची

1. टी.वी. मरम्मति
2. सिलाई/कटाई
3. स्कूटर मरम्मति
4. कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर
5. साईकिल मरम्मति
6. मोटर ड्राइविंग एवं मरम्मति
7. हस्तशिल्प

600

7

गिरिडीह

आर्यभट्ट कम्प्युटर, राँची

1. कम्प्यूटर
2. टी.वी. रिपेयरिंग
3. स्कूटर रिपेयरिंग
4. सिलाई/कटाई
5. मोटरकार रिपेयरिंग

414

8

जमशेदपुर

संत रविदास कल्याण समिति, राँची

1. प्लास्टिक कुर्सी/भल्भ निर्माण
2. मोमबत्ती निर्माण

251

9

सरायकेला

संत रविदास कल्याण समिति, राँची

1. इलेक्ट्रीकल चोक निर्माण
2. हीटर क्वायल निर्माण
3. मोमबत्ती निर्माण

200

10

दुमका

अखिल भारतीय पहाड़िया आदिम जन जातीय उत्थान समिति, दुमका

1. टी.वी. रिपेयरिंग
2. नर्सिंग (टी.डी.)
3. सौंदर्य प्रसाधन
4. जूता-चप्पल
5. उलेन शॉल/दरी निर्माण
6. बिजली मरम्मती
7. ऑटोमोबाईल रिपंयरिंग
8. मोटर ड्राइविंग
9. कम्प्यूटर प्रशिक्षण
10. सिलाई/कटाई

400

11

गुमला

छोटानागपुर क्राफ्ट उेवलपमेंट सोसाइटी, राँची

1. जूट क्राफ्ट ट्रेड
2. इलेक्ट्रीक/इलेक्ट्रोनिक्स

120

12

कोडरमा

युथ एक्शन सोसाइटी, राँची

1. सिलाई/कटाई
2. ऑटोमोबाईल रिपेयरिंग
3. बाँस वस्तु कला

126

13

हजारीबाग

जन जागरण केन्द्र हजारीबाग

1. सिलाई/कटाई
2. रेडियो/टी.वी. रिपेयरिंग
3. ऑटोमोबाईल रिपेयरिंग

400

14

धनबाद

जन जागरण केन्द्र हजारीबाग

1. सिलाई/कटाई
2. रेडियो/टी.वी. रिपेयरिंग
3. ऑटोमोबाईल रिपेयरिंग

362

15

लोहरदगा

छोटानागपुर क्राफ्ट उेवलपमेंट सोसाइटी, राँची

1. कम्प्यूटर प्रशिक्षण
2. जूट क्राफ्ट
3. मोटर ड्राइविंग

115

16

बोकारो

क्रियेटिव इन्टरनेश्नल, हरमु, राँची

1. इलेक्ट्रीकल
2. सिलाई/कटाई
3. कम्प्यूटर
4. टी.वी. रिपेयरिंग
5. फ्रिज, ए.सी. कुलर मरम्मति
6. ऑटोमोबाईल रिपेयरिंग

323

17

चाईबासा

क्रियेटिव इन्टरनेश्नल, हरमु, राँची

1. इलेक्ट्रीकल
2. फ्रिज, ए.सी. कुलर मरम्मति
3. इलेक्ट्रोनिक
4. ब्यूटीशियन
5. कम्प्यूटर
6. सिलाई/कटाई

150

18

पाकुड़

स्रीजन फाउन्डेशन, हजारीबाग

1. दर्जी
2. साईकिल मरम्मति
3. मोटर मैकेनिक
4. मोटर ड्राइविंग
5. टी.वी., रेडियो रिपेयरिंग

200

19

सिमडेगा

सेन्टर फार एजुकेशन, राँची

1. सिलाई/कटाई
2. काष्ट कला
3. कम्प्यूटर प्रशिक्षण

122

20

गोड्डा

में. सिटिजन फाउन्डेशन, हजारीबाग

1. इलेक्ट्रीकल्स
2. इलेक्ट्रोनिक्स
3. सिलाई/कटाई

200

21

देवधर

संत रविदास कल्याण समिति, राँची
एवं
इन्सटिच्युट ऑफ इन्टरप्रेनियोरशिप डेवलपमेंट बिहार, पटना

1. कम्प्यूटर प्रशिक्षण
2. इलेक्ट्रोनिक्स
3. रेडीमेड गारमेन्ट्स
4. मोटर ड्राइविंग
5. सिलाई/कटाई

369

22

चतरा

इन्सटिच्युट ऑफ इन्टरप्रेनियोरशिप डेवलपमेंट बिहार, पटना

1. इलेक्ट्रोनिक्स
2. सिलाई/कटाई
3. इलेक्ट्रोनिक्स/मोटर बाईंडिंग
4. रेडीमेड गारमेन्ट्स

200

 

 

कुल

 

5750

 

इस योजना में अनुदान एवं सूद अनुदान दोनों का प्रावधान है। इसमें बैंकों के द्वारा स्वीकृत योजना के अनुरूप कुल परियोजना लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम 20,000/-रू. अनुदान के रूप में मुहैय्या कराया जाता है, शेष बैंक ऋण के रूप में दिया जाता है, जिसकी विवरणी निम्नवत् है :-

वित्तपोषण के श्रोत एवं अनुदान :-

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार के पत्रांक 19014/9/ 2005-SCD-IV दिनांक 09.01.07 द्वारा नई SRMS योजना के द्वारा वित्तपोषण की व्यवस्था में बदलाव किया गया है उसके अन्तर्गत सफाई कर्मियों को लाभान्वित कराने के लिए बैंकों के माध्यम से वित्तपोषण कराया जाना है, जिसमें 25000/-रूपये ईकाई लागत तक लघु ऋण तथा 5.00 लाख रूपये तक ईकाई लागत योजनाओं में टर्म ऋण सस्ती ऋण दरों पर दिया जा सकता है। जिसमें कैपिटल अनुदान ईकाई लागत के विरूध्द तथा कैपिटल अनुदान बैंको द्वारा ली जानेवाली सूद दर को निर्धारित दर तक लाने के लिए प्रावधान किया गया है कैपिटल अनुदान ऋण के साथ जुड़ा हुआ है। दी जाने वाली कैपिटल अनुदान तथा ऋण अनुदान निम्नवत् है :-

(a) 25,000/-रू. तक के परियोजना मूल्य

-

परियोजना मूल्य का 50%

(b)

25,000/-रू. से अधिक परियोजना मूल्य

-

परियोजना मूल्य का 25% न्यूनतम 12,500/-रू . तथा अधिकतम ; 20,000/-रू.

(c)

लाभार्थी से सूद की दर जो प्रभावी होगी 25,000/-रूपये ईकाई लागत तक की परियोजना के लिए

-

महिलाओं को 4% वार्षिक सूद
पुरूषो को 5% वार्षिक सूद पर

(d)

25,000/-रूपये से ऊपर ईकाई लागत की योजनाओं के लिए ޺सूद की दर

-

सभी के लिए 6% वार्षिक सूद पर

(e)

ऋण वापसी सीमा 25,000/- रूपये ईकाई लागत के लिए अवधि

-

3 (तीन) वर्ष

(f)

25,000/- रूपये से अधिक ईकाई की लागत की योजना के लिए अवधि

-

5 (पाँच) वर्ष

उक्त दोनों मामलों में 6 माह का moratorium ऋण वापसी हेतु बैंको द्वारा देय होगा।
(e) बैंको द्वारा पारा (c) में वर्णित सूद दरों से अधिक जो सूद लिया जायेगा उसकी प्रतिपूर्ति सूद अनुदान देकर पूरी की जायेगी, जिसके लिए बैंको से प्रस्ताव प्राप्त होने के पश्चात् राष्ट्रीय सफाईकर्मी वित्त एवं विकास निगम, नई दिल्ली को भेजकर इसे प्राप्त किया जायेगा।

वित्तपोषण : सभी 5750 आवेदन-पत्रों का निष्पादन कर दिया गया है। कुल 2871 प्रशिक्षित स्वच्छकार ऋण लेने के इच्छुक नहीं है या जिन्हें विभिन्न कारणों से ऋण उपलब्ध नहीं कराया जा सकता है। कुल 2879 प्रशिक्षित स्वच्छकारों को पूर्नवासित कराने हेतु ऋण उपलब्ध कराया गया है। कुल 2879 प्रशिक्षित स्वच्छकारों में से 2780 प्रशिक्षित स्वच्छकारों को विभिन्न बैंकों के माध्यम से तथा 99 प्रशिक्षित स्वच्छकारों को एन.एस.के.एफ.डी.सी. योजना में ऋण स्वीकृत किया गया है।

कुल 2879 लाभार्थियों की विवरणी यहाँ देखा जा सकता है (Click List)।

 

 
 
   

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

गृह   हम   क्रियाएँ   तस्वीर कक्ष   हमसे संपर्क करें सूचना का अधिकार अधिनियम
फोन नंबर

Contents Owned, Provided and updated by JSSCDC, Ranchi

 

Designed, Developed & Hosted by
NIC-Jharkhand State Centre, Ranchi